CBSE ने मानी गलती, 10वीं बोर्ड के विवादित सवाल पर मिलेंगे पूरे नंबर

CBSE Notification: सीबीएसई ने एक सर्कुलर जारी कर कहा कि 11 दिसंबर को हुई CBSE बोर्…
CBSE का बड़ा फैसला: 10वीं के English पेपर से निरस्त किए गए विवादित सवाल, मिलेंगे पूरे मार्क्स
सीबीएसई की ओर से कहा गया कि विशेषज्ञाें की सिफारिश पर विवादित पैसेज-1 और उससे जुड़े प्रश्नों को निरस्त किया जाता है. इन प्रश्नों के पूरे अंक छात्रों को प्रदान किए जाएंगे.

नई दिल्ली: CBSE English Paper Controversy: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने कक्षा 10वीं के अंग्रेजी पेपर से विवादास्पद प्रश्नों को निरस्त कर दिया है. सीबीएसई की ओर से एक आदेश जारी कर इस बात की जानकारी दी गई. आदेश जारी करते हुए सीबीएसई की ओर से कहा गया कि विशेषज्ञाें की सिफारिश पर विवादित पैसेज-1 और उससे जुड़े प्रश्नों को निरस्त किया जाता है. इन प्रश्नों के पूरे अंक छात्रों को प्रदान किए जाएंगे. दरअसल केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE)null की 10वीं के अंग्रेजी विषय की परीक्षा में पूछे गए एक पैसेज की कुछ लाइनों पर काफी आपत्ति जताई गई थी. इन्हीं आपत्तियों के बीच आज सीबीएसई ने इस पैसेज को निरस्त कर दिया है.
पैसेज में क्या क्या गलतियादरअसल, सीबीएसई टर्म-1 बोर्ड की अंग्रेजी विषय का पेपर विवादों में रहा है। इंग्लिश पेपर के सेट 002/1/4 के सेक्शन-ए रीडिंग में एक पैसेज पर दिए गए विवरण को कथित तौर पर महिला रूढ़िवादी सोच को बढ़ावा देने का आरोप लगा है। इस पैसेज में टीनएजर्स (13 से 19 वर्ष की आयु) की जीवन शैली के बारे में बताया गया है कि कैसे वह अपनी ही दुनिया में जीने लगते हैं। पेपर के पैसेज में लिखा है कि जब परिवार में महिला अपनी इच्छा से समाज में आगे बढ़कर अपना करियर चुनती है और समाज में एक नाम-पहचान हासिल करती है। तब परिवार में माता-पिता का बच्चों पर से अधिकार कम होने लगता है। बच्चे यह फैसला नहीं कर पाते हैं कि वह दोनों में किसकी सुने। महिलाओं को परिवार में अनुशासन बनाए रखने के लिए अपने पति की आज्ञा का पालन करना चाहिए।
साथ ही एक महिला, मां होते हुए अपने पति के तरीके को स्वीकार करेगी, तभी उसके छोटे बच्चे अपनी मां की आज्ञा का पालन करेंगे। महिला उद्धार ने बच्चों पर माता-पिता के अधिकार को खत्म कर दिया है।इस तरह के कई वाक्य इंग्लिश के इस पेपर में मौजूद हैं, जो ऐसी व्याख्या करते हैं। इस पैसेज में पिछली सदी के विचारों का उल्लेख किया गया है। शनिवार 11 दिसंबर को हुई सीबीएसई की 10वीं बोर्ड की टर्म-1 अंग्रेजी विषय की परीक्षा के पेपर सेट  002/2/4 में भी दो गलतियों पर शिक्षकों व छात्रों ने सवाल उठाए थे। इस पर भी सीबीएसई बोर्ड ने अपनी सफाई दी थी। दरअसल, सेट 002/2/4 में सेक्शन-ए रीडिंग में प्रश्न संख्या 13 व 14 दोनों की हेडिंग गायब थी। इसके अलावा प्रश्न संख्या 43 में भी चार विकल्पों – ए,बी,सी व डी में से सी और डी विकल्प एक समान थे।
बढ़ते विवाद के बाद सीबीएसई ने लिया फैसलाप्रश्न पत्र पर गहराते विवाद के बाद सीबीएसई ने इसे वापस ले लिया है। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने कहा कि, कक्षा 10 के अंग्रेजी के पेपर में आया पैसेज नंबर 1 बोर्ड की गाइडलाइन के अनुरूप नहीं है। ऐसे में इसे प्रश्न पत्र से हटाया जाता है। इस पैसेज के पूरे मार्क्स सभी विद्यार्थियों को मिलेंगे। 
FOLLOW US ON FACEBOOK: https://www.facebook.com/College-times-334092486721864/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *